हिन्दी

पुलवामा हमले के गुनहगार आतंकी मसूद अजहर की फ्रांस में जब्त होगी संपत्ति

हाल ही में पुलवामा आतंकी हमले के आरोपी जैश के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद में फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने प्रस्ताव पेश किया था लेकिन चीन ने अड़ंगा लगाकर मसूद को एक बार फिर बचा लिया।

पिछले 10 साल में यह चौथी बार था, जब चीन ने मसूद अजहर वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचा लिया हो। इससे नाराज संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्यों ने चेतावनी दी कि यदि चीन अपनी इस नीति पर अड़ा रहा, तो जिम्मेदार सदस्य परिषद में अन्य कदम उठाने पर मजबूर हो सकते हैं।

बता दें कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले में हुए आतंकी हमले में 49 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने लिया था। आतंकी हमले के खिलाफ भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पीओके में घुसकर जैश के ठिकानों को तबाह कर दिया था, जिसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव पैदा हो गया था।

बता दें कि मसूद अजहर भारत में कई बार आतंकी हमलों को साजिश रचने के साथ उन्हें अंजाम दे चुका है। वह 2001 में संसद पर हुए हमले का भी दोषी है। इस दौरान 9 सुरक्षाकर्मियों की जान गई थी। इसके अलावा जनवरी 2016 में जैश के आतंकियों ने पंजाब के पठानकोट एयरबेस और इसी साल सितंबर में उरी में सेना के हेडक्वार्टर पर हमला किया था।

Click to comment

Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

10 − nine =

To Top
WhatsApp WhatsApp us